Rahat Indori Shayari In Hindi | Rahat Indori Sher

Rahat Indori Shayari In Hindi


Rahat Indori Shayari In Hindi :
दोस्तों आज में आपके लिये लेकर आया हूं। Rahat Indori की Best Top 17+ Rahat Indori Shayari जो आपको बहुत ही पसंद आयेगी। दोस्तों Dr.Rahat Indori का जन्म को इन्दौर मध्यप्रदेश में हुआ था। और हाल ही में इनका देहांत हो गया। Rahat Indori Best Shayri के साथ Rahat Indori Ka Mushaira भी बहुत पसंद किया जाता है। इस पोस्ट मै आपको Rahat Indori Desh Bhakti Shayari, Rahat Indori 2 Line Shayari, Rahat Indori Sher, Rahat Ji ki Romantic Shayari, Rahat Indori Best Gazal का Shayari Collection मिलेगा अगर आपको पसंद आये तो अपने दोस्तों को शेयर जरुर करना।

दोस्तों राहत इंदौरी बेहतरीन उर्दू और हिन्दी शायर हैं। 
                                   

 Rahat Indori Desh Bhakti Shayari

Main Mar Jaun To Meri Ak Alag Pehchan Likh Dena,
Lahu Se Meri Peshani Pe Hindustan Likh Dena.

मैं मर जाऊं तो मेरी एक अलग पहचान लिख देना,
लहू से मेरी पेशानी पे हिन्दुस्तान लिख देना।

 

Rahat Indori Desh Bhakti Shayari

Rahat Indori Desh Bhakti Shayari



Rahat Indori 2 Line Shayari

Zubaan Toh Khol, Najar Toh Mila,Jabab Toh De,
Main Kitni Bar Lutaa Hun, Mujhe Hisaab Toh De.

जुबान तो खोल, नजर तो मिला, जबाब तो दे,
मैं कितनी बार लुटा हूं, मुझे हिसाब तो दे।
 

Rahat Indori Sher Hindustan     

                  
Sabhi Ka Khoon Hai Shamil Yhan Ki Mitti Main,
Kisi Ke Baap Ka Hindustan Thodi Hai.
सभी का खून है शामिल यहां की मिट्टी में,
किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है।
    

rahat indori best poetry in Hindi                                            

Roj Taron Ko Numais Main Khalal Padhta Hai,
Chand Pagal Hai Andhere Main Nikal Padhta Hai.
रोज तारों को नुमाइश में खलल पढ़ता है,
चांद पागल है अंधेरे में निकल पढ़ता है।
      

     Rahat Indori Ke Sher 

 
 Bahut Gurur Hai Dariya Ko Apne Hone Par,
Jo Meri Pyas Se Uljhe To Dhajjiyan Ud Jayen.
बहुत गुरुर है दरिया को अपने होने पर,
जो मेरी प्यास से उलझे तो धज्जियां उड़ जाएं।
    
   
Rahat Indori Ke Sher

Rahat Indori Ke Sher


        

     Rahat Indori Hindi Shayari   

Maine Apni Khushk Aakhon Se Lahu Chalka Diya,
Ak Samundar Keh Rha Tha Mujhko Pani Chahiye.

मैंने अपनी खुश्क आंखों से लहू छलका दिया,
एक समुंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए।
                                       

Rahat Indori Ke Sher


Jagne Ki Bhi, Jagane Ki Bhi, Aadat Ho Jaye,
Kash Tujhko Kisi Shayar Se Mohabbat Ho  Jaye.
जागने की भी, जगाने की भी, आदत हो जाये,
काश तुझको किसी शायर से मोहब्ब्त हो जाए।
                                            

Romantic Shayari Rahat Indori

Na Hamsafar Na Kisi Hamnashi Se Niklega,
Hamare Paav Ka Kata Hamee Se Niklega.

न हम-सफर न हम-नशी से निकलेगा,
हमारे पांव का कांटा हमीं से निकलेगा।
  
Romantic Shayari Rahat Indori

Romantic Shayari Rahat Indori



                                          

Rahat Indori Ke Sher Shayari

Aab Na Mai Hun, Na Vaki Hai Jamane Mere,
Fir Bhi Shehron Main Mashhoor Hain Fasane Mere
Zindagi Hai To Naye Jakhm Bhi Lag Jayenge,
Ab Bhi Vaki Hai Kai Dost Purane Mere.
अब न में हूं, न वाकी हैं जमाने मेरे,
फिर भी शहरों में मशहूर हैं फसाने मेरे,
जिंदगी है तो नये ज़ख्म भी लग जायेंगे,
अब भी वाकी है कई दोस्त पुराने मेरे।

                                     

Rahat Indori Ke Mashhoor Sher

Beemar Ko Maraz Ki Dava Deni Chahiye,
Main Peena Chahta Hun Pila Deni Chahiye.

बीमार को मर्ज की दवा देनी चाहिए,
मैं पीना चाहता हूं पिला देनी चाहिए।
                                    

Rahat Indori Ke Sher Shayari

Mainne apani khushk aankhon se lahoo chhalaka diya,
Ek samandar kah raha tha mujhako pani chahie.

मैंने अपनी खुश्क आँखों से लहू छलका दिया,
इक समंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए।


Rahat Indori Best Ghazal

Roj patthar ki himayat main gazal likhate hain,
Roj sheeshon se koi kam nikal padta hai

रोज़ पत्थर की हिमायत में ग़ज़ल लिखते हैं
रोज़ शीशों से कोई काम निकल पड़ता है


Rahat Indori Funny Shayari

Aesi sardi hai ki sooraj bhi duhai mange, Jo ho parades mein vo kisse rajaai mange

ऐसी सर्दी है कि सूरज भी दुहाई मांगे
जो हो परदेस में वो किससे रज़ाई मांगे


Rahat Indori Sher In 2021

Ab ham makaan mein tala lagaane vale hain,
Pata chala hai ki mehamaan aane vale hain

अब हम मकान में ताला लगाने वाले हैं,
पता चला है की मेहमान आने वाले हैं


Rahat Indori Sher In 2021

Rahat Indori Sher In 2021



Rahat Indori Shayari

Nye safar ka jo ailaan bhi nahin hota,
To zinda rahane ka aramaan bhi nahin hota

नए सफ़र का जो ऐलान भी नहीं होता,
तो ज़िंदा रहने का अरमान भी नहीं होता


Rahat Indori Shayari In Hindi 2021

Neend se mera taalluq hi nahin barason se,
Khwaab aa aa ke meri chhat pe tahalate kyoon hain

नींद से मेरा ताल्लुक़ ही नहीं बरसों से
ख़्वाब आ आ के मेरी छत पे टहलते क्यूं हैं


राहत इंदौरी शायरी हिन्दी

Tufano se aankh milao, sailaabon par vaar karo,
Mallaahon ka chakkar chhodo, tair ke dariya paar karo

तूफानों से आंख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो,
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर के दरिया पार करो


राहत इंदौरी शायरी हिन्दी

राहत इंदौरी शायरी हिन्दी



Rahat Indori Best Shayari

Roj taron ko numaish mein, khalal padata hai,
Chaand paagal hain, andhere mein nikal padate hai

रोज़ तारों को नुमाइश  में , खलल पड़ता हैं
चाँद पागल हैं , अंधेरे में निकल पड़ता है                                 

तो दोस्तों कैसी लगी आपको हमारी पोस्ट Rahat Indori Shayari In Hindi हमें जरूर बताएं।

Post a comment

0 Comments